लंदन: वॉटफर्ड ने रविवार रात यहां एएफ कप के एक रोमांचक सेमीफाइनल मुकाबले में शानदार प्रदर्शन करते हुए वॉल्वरहैम्प्टन वांडर्स को 3-2 से शिकस्त दी।
मैच में वॉटफर्ड एक समय 0-2 से पिछड़ रही थी, लेकिन जेरार्ड डेऊलोफेउ के दो गोलों की बदौलत टीम वापसी करने में कामयाब रही और फाइनल में जगह बनाई।
बीबीसी के अनुसार, फाइनल में वॉटफर्ड का सामना इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) की मौजूदा चैम्पियन मैनचेस्टर सिटी से होगा। मुख्य कोच पेप गॉर्डियोला की टीम ने शनिवार को हुए एक अन्य सेमीफाइनल में ब्राइटन एंड होव अल्बियन को मात दी थी।
वॉल्वरहैम्प्टन ने वेम्बली स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में दमदार शुरुआत की और पहले हाफ में मैच पर अपना दबदबा बनाए रखा।
मैच के 36वें मिनट में मैट डोहर्टी ने शानदार गोल करते हुए वॉल्वरहैम्प्टन को बढ़त दिला दी।
दूसरे हाफ की शुरुआत की भी वॉल्वरहैम्प्टन के लिए बेहतरीन रही। राउल जिमेनेज ने 62वें मिनट में अपना कौशल दिखाया और गोल करते हुए अपनी टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया।
इसके बाद, वॉटफर्ड ने वापसी की। 79वें मिनट में डेऊलोफेउ अपनी टीम के लिए पहला गोल किया और इंजुरी टाइम (94वें मिनट) में स्ट्राइकर ट्रॉय डीनी ने पेनाल्टी को गोल में बदलकर अपनी टीम को बराबरी दिला दी।
अतिरिक्त समय में भी वॉटफर्ड ने दमदार खेल दिखाया। 104वें मिनट में डेऊलोफेउ को मौका मिला और उन्होंने गेंद को गोल में डालने में कोई गलती नहीं की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here