अहमदाबाद: गुजरात के गांधीनगर रेलवे स्टेशन को हवाईअड्डे की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है। इसके लिए गांधीनगर रेलवे स्टेशन पर हवाईअड्डे की तरह ही सुविधाओं का विकास और सुरक्षा की व्यवस्था की जा रही है। रेलवे के मुताबिक, इस स्टेशन के ठीक ऊपर आलीशान होटल बनाया जा रहा है, जो 300 कमरों का है। यह होटल महात्मा मंदिर और हेलीपैड प्रदर्शनी सेंटर के नजदीक है, जिससे यहां होने वाले सम्मेलनों या लगने वाली प्रदर्शनी में आने वालों के लिए आसानी होगी। यह स्टेशन संभवत: इस माह के अंत तक विकसित हो जाएगा।
हवाईअड्डे की तरह ही कोई भी बगैर टिकट के इस स्टेशन में प्रवेश नहीं कर सकता है। एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के जैसे ही रेलवे स्टेशन की सुरक्षा में तैनात रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को कमांडो ट्रेनिंग दी जा रही है।
स्टेशन के बाहर पटरियों के दोनों तरफ ऊंची दीवार बनेगी, ताकि दूसरे रास्तों से प्लेटफॉर्म पर कोई प्रवेश न कर पाए। दीवार बनाए जाने का मुख्य उद्देश्य अन्य रास्तों से प्लेटफॉर्म में प्रवेश को रोकना है। स्टेशन और ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा के लिए अत्याधुनिक तरीकों का इस्तेमाल किया जाएगा।
अहमदाबाद मंडल के एक रेल अधिकारी ने बताया, पश्चिम रेलवे के दो स्टेशनों गांधीनगर और रतलाम में एक्सेस कंट्रोल सिस्टम लगाया जाएगा। इसके जरिए केवल टिकट धारकों को ही परिसर में प्रवेश मिल पाएगा। जैसे हवाईअड्डे में बगैर टिकट कोई प्रवेश नहीं कर पाता, वैसे ही बगैर टिकट के कोई भी इस स्टेशन के प्लेटफार्म पर नहीं पहुंच सकेगा।
गौरतलब है कि इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन इस स्टेशन के कायाकल्प का काम कर रहा है। जून 2019 से शुरू हुआ काम तेजी से किया जा रहा है। अगले महीने इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here