रायपुर: देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 6 फरवरी को रायगढ़ दौरे पर जा रहे हैं । प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पीएमओ को चिट्‌ठी लिखी है जिसमें कहा गया है कि 6 फरवरी को प्रदेश का बजट पेश किया जाना है और उनके दौरे की वजह से विपक्ष सत्र के दौरान मौजूद नहीं रहेगा ऐसे में उन्होंने प्रधानमंत्री का दौरा रद्द करने का अनुरोध किया है। चूंकि प्रधानमंत्री मोदी छत्तीसगढ़ में मौजूद रहेंगे अत: प्रदेश के कई विधायकों सहित सभी बड़े नेता जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी रायगढ़ में प्रधानमंत्री की सभा में मौजूद होंगे। विधानसभा में सबसे बड़े विपक्षी दल के सदस्यों का मौजूद न रहना सत्तापक्ष को अच्छा नहीं लगेगा। आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र प्रदेश की जनता के लिए बड़ी घोषणाएं भी की जा सकती है। बजट पर बहस में भाग लेने के लिए विपक्ष का मौजूद न रहना एक स्वस्थ बजट सत्र में सत्तापक्ष के लिए वैसा ही होगा जैसे एक टीम के न आने की वजह से दूसरी टीम को वाकओव्हर मिल गया हो। क्या प्रदेश के मुख्यमंत्री का अनुरोध पीएमओ को मंजूर होगा? यह बड़ा सवाल है लेकिन यदि प्रथम दृष्टया देखें तो प्रधानमंत्री का रायगढ़ दौरा रद्द होता नज़र नहीं आ रहा है। क्योंकि प्रधानमंत्री का दौरा काफी पहले से तय है और सारी व्यवस्थाएं पहले से की जा चुकी हैं। आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए प्रधानमंत्री कई राज्यों में दौरा कर चुके हैं। इस बार के विधानसभा चुनाव का रिजल्ट भाजपा के लिए बेहद खराब रहा है और इसका असर लोकसभा चुनाव में पड़ने की आशंका के चलते प्रदेश में प्रधानमंत्री का दौरा बेहद महत्वपूर्ण है। और वैसे भी रायगढ़ से इस बार नये प्रत्याशी को मैदान में उतारे जाने की संभावना ज्यादा दिखाई दे रही है। इन बातों पर नज़र डालें तो प्रधानमंत्री का दौरा रद्द नहीं होने की पूरी संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here