धमतरी: जिले में एक दिसंबर से अब तक समर्थन मूल्य पर 50 प्रतिशत से अधिक याने 21 लाख 65 हजार 864 क्विंटल धान समितियों के जरिए खरीदा गया है। गौरतलब है कि वर्ष 2018-19 में 43 दिनों में खरीदे गए धान का आंकड़ा 20 लाख 34 हजार 144 क्विंटल था। जिले में प्राथमिकता के आधार पर सभी पंजीकृत लघु और सीमांत किसानों से धान खरीदी की जा रही है। अब तक 60 हजार लघु और सीमांत किसानों से धान समर्थन मूल्य पर खरीदा गया है। साथ ही अब तक उपार्जित धान के विरूद्ध 307.96 करोड़ रूपए का भुगतान किया जा चुका है। इसी तरह 5 एकड़ से अधिक रकबा वाले 9000 किसानों से समितियों में समर्थन मूल्य पर धान खरीदा गया है।

इसके साथ ही जिले में अवैध रूप से धान ना बिके इसके लिए कोचियों पर निगाह रखने के अलावा कड़ी कार्रवाई भी की जा रही है। खाद्य अधिकारी बी.के.कोर्राम ने बताया कि अब तक कुल 89 हजार 440 क्विंटल अवैध धान के 237 प्रकरण बनाये गए हैं। कुछ लोगों द्वारा अपने व्यक्तिगत स्वार्थ के लिए समितियों में धान बेचने पर अवरोध उत्पन्न किया जा रहा है, इसके मद्देनजर जिला प्रशासन की ओर से प्रभारी कलेक्टर नम्रता गांधी ने जिले के किसानों से अपील की है कि वे किसी के बहकावे में ना आएं। जिला प्रशासन सभी वास्तविक किसानों का धान समितियों में खरीदेगा। अत: किसानों से कहा गया है कि जिस दिन के लिए टोकन कटा हो, किसान उस दिन अनिवार्यत: समिति में धान बेचने आएं, ताकि उन्हें या अन्य किसानों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here