महासमुंद: बुधवार को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर शंकराचार्य भवन में महिला उत्थान व सशक्तीकरण की दिशा में महिला महासभा के तत्वावधान में महिला महासम्मेलन का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि राष्ट्रीय महासचिव भाजपा व राज्यसभा सांसद सरोज पाण्डेय रहीं। मुख्यवक्ता पूर्व विधायक डॉ विमल चोपड़ा थे। अध्यक्षता महिला महासभा अध्यक्ष उत्तरा प्रहरे ने कीं। विशेष अतिथि श्रीमती सरला कोसरिया प्रदेश उपाध्यक्ष, पूर्व राज्यमंत्री पूनम चंद्राकर, भाजपा जिलाध्यक्ष इंद्रजीत खालसा गोल्डी, पूर्व संसदीय सचिव श्रीमती रूपकुमारी चौधरी, शहर मंडल अध्यक्ष संदीप घोष, नपा उपाध्यक्ष श्रीमती कौशिल्या बसंल, भाजपा महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष श्रीमती मीना वर्मा, श्रीमती ललिता अग्रवाल, श्रीमती वाणी तिवारी, श्रीमती शोभा शर्मा, श्रीमती लक्ष्मी परदेशी साहू, श्रीमती शुभ्रा शर्मा, श्रीमती दशोदा ध्रुव, श्रीमती सरला मदनकार, श्रीमती सुशीला देवार उपस्थित रहीं। मुख्य अतिथि पाण्डेय ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी देश की महिलाओं के लिए बहुत सारे कार्य कर रहे हैं। गांधी जी ने कहा था- साफ -सफाई रखिए, महिलाओं को आगे बढ़ाइये, शराबबंदी अभियान शुरू किया। उसी काम को मोदी जी कर रहे हैं। उन्होंने महिलाओं से कहा कि आप समूह बनाकर कई रोजगार कर सकती हैं। मुख्य वक्ता डॉ. विमल चोपड़ा ने कहा कि गांधी जी ने अपना एक दर्शन दिया कि हमें सत्य व अहिंसा के राह पर चलना है। डॉ चोपड़ा ने कहा कि कुछ लोग भ्रम फैलाते हैं कि भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ महात्मा गांधी के विरोधी हंै। राजनीति में हम हिंसा का हमेशा विरोध करते हंै कि किसी के साथ हिंसक व्यवहार ना हो। नाथूराम गोड़से हिंसक प्रवृत्ति के थे और वे कभी हमारे आदर्श नहीं हो सकते। हमारे आदर्श महात्मा गांधी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here