कोरबा  । पुलिस ने मुखबिर को खरीदार बनाकर गांजा तस्करों के पास भेजा। पुलिस के झांसे में तस्कर आ गए और जांजगीर.चांपा जिले से जैसे ही कनकी के पास कार में पहुंचे पुलिस ने दबोच लिया। दो आरोपितों के पास से 40 किलो गांजा बरामद किया गया है। पकड़ा गया एक आरोपित पहले भी गांजा तस्करी के मामले में जेल जा चुका है।
उरगा पुलिस को शिकायत मिल रही थी कि जांजगीर.चांपा जिला से कार में गांजा लाकर कोरबा क्षेत्र में खपाया जा रहा। पुख्ता सूचना के बाद पुलिस ने एक व्यक्ति को खरीदार बनाकर आरोपितों से संपर्क करवाया। ऑर्डर का गांजा लेकर जैसे ही कनकी के पास आरोपित कार क्रमांक सीजी 11 एजी 3382 में पहुंचे, पुलिस ने घेराबंदी कर ली। बताया जा रहा है कि वाहन में सवार युवकों ने पूछताछ में अपना नाम करण कुमार पिता गनपत लाल लहरे 23 निवासी नवापारा खैजा चौकी पंतोरा व अमरदास अनंत पिता भुखाऊराम अनंत 27 निवासी नगवा थाना बलौदा जिला जांजगीर.चांपा बताया। जांच में वाहन की सीट के नीचे रखे पीले रंग के दो प्लास्टिक बोरे में 40 किलो ग्राम गांजा मिला। बाजार में इसकी कीमत लगभग चार लाख रुपये बताई जा रही है। युवकों ने बताया कि गांजा को बिक्री करने कोरबा लेकर जा रहे थे। पुलिस ने धारा 20 बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई कर आरोपितों को जेल भेजा गया है। कार्रवाई के दौरान उरगा थाना प्रभारी लखन पटेल की अगुवाई में सहायक उप निरीक्षक राकेश कुमार गुप्ता, प्रधान आरक्षक अजय सिंह, उदय सिंह ठाकुर, आरक्षक हितेश राव, अभिजीत पांडेय, उमेश दुबे, विकास कोशले, सैनिक शांतनु राजवाड़े की भूमिका रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here