Corona infection to occur at peak in India in November? ICMR said - We did not do such a study

पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना महामारी के महासंकट से गुजर रही है। भारत में भी बहुत तेजी से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इस बीच मीडिया में ICMR की ओर से की गई स्टडी को लेकर एक रिपोर्ट चल रही है, जिसमें देश में कोरोना संक्रमण का चरम मध्य नवंबर के बीच आने का कहा गया है। इस स्टडी को लेकर सामने आ रही खबरों का ICMR ने खंडन किया है। ICMR की ओर से कहा गया है कि उनकी ओर से ऐसी कोई स्टडी नहीं की गई है। स्टडी में दावा किया जा रहा था कि लॉकडाउन की वजह से देश में कोरोना महामारी 8 हफ्ते देर से अपने चरम पर पहुंचेगी।

ICMR ने किया ये ट्वीट

आइसीएमआर की ओर से मीडिया में स्टडी को लेकर आ रही खबरों का खंडन किया गया है। ICMR ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘ये खबरें जिसमें कहा जा रहा है कि ICMR ने स्टडी की है यह मिसलीडिंग हैं। यह नॉन पियर रिव्यूड मॉडल को रैफर करती है जो ICMR द्वारा नहीं किया गयाI है और यह ICMR की ऑफिशियल पोजिशन को भी नहीं बताती है।

रिपोर्ट में ये था दावा

ICMR के नाम से सामने आई स्टडी को लेकर रिपोर्ट में कहा गया था कि ICMR द्वारा बनाए गए ऑपरेशंस रिसर्च ग्रुप के शोधकर्ताओं ने स्टडी में कहा कि महामारी के चरम पर पहुंचने में लॉकडाउन की वजह से संभवत: 34 से 76 दिनों तक आगे बढ़ा दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here