Coronavirus Lockdown Red Zones in Indore: No rebate will be available in Indore even through Red Zone

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 1500 के ऊपर है और इसे रेड जोन में रखा गया है। अभी भी यहां मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। केंद्र सरकार द्वारा 17 मई तक बढ़ाए गए लॉकडाउन में रेड जोन को जो छूट दी गई है वो इंदौर में नहीं मिलेगी। इंदौर में प्रशासन लॉकडाउन 3.0 में 17 मई तक कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने और भी सख्ती दिखाने वाला है। अभी की स्थिति को देखते हुए किसी भी छूट से इनकार किया गया है, यहां सिर्फ आवश्यक सेवाओं जैसे दूध की दुकान और मेडिकल स्टोर ही खुली रहेंगी। दूध की दुकानें भी सुबह एक तय समय तक खोली जा सकेंगी। शहर में करीब 30 ऐसे क्षेत्र हैं जहां कोरोना संक्रमण का खतरा सबसे अधिक है।

इंदौर के जूनी इंदौर, टाटपट्टी बाखल, अहिल्या पल्टन, जूना रिहाला, खजराना, मोती तबेला, सदर बाजार, आजाद नगर, कड़ाव घाट, चंदन नगर, रानीपुरा, मदीना नगर, सुदामा नगर, छावनी, हाथीपाला, दौलतगंज, तंजीम नगर, राजमोहल्ला, नेहरू नगर, नयापुरा, पल्हर नगर, सिद्धिपुरम, सिकंदराबाद क्षेत्र से सबसे ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिले है।

रेड जोन को मिली है ये छूट जो नहीं मिलेगी इंदौर को

– निजी वाहन से कुछ सेवाओं के लिए लोगों को आने-जाने की अनुमति नहीं मिलेगी।

– दो पहिया वाहन से चालक अकेले भी कहीं आ जा नहीं सकेंगे।

– शहर में औद्योगिक क्षेत्रों में काम काज में अभी छूट नहीं मिलेगी।

– मकान निर्माण या अन्य निर्माण की अनुमति नहीं होगी।

– 33 प्रतिशत स्टॉफ के साथ निजी दफ्तर भी नहीं खोला जा सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here