वाशिंगटन । Coronavirus  अमेरिका में कोरोना वायरस की दूसरी लहर से तबाही मच गई है। अमेरिका में मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें हुईं हैं। अमेरिका में अब प्रतिदिन 1300 से अधिक लोगों की मौतें हो रही है। अमेरिका में इससे कोरोना के हालात तेजी से गंभीर रूप ले रहे हैं। अमेरिका में कोरोना से अब तक कुल मौत का आंकड़ा लगभग 253,000 तक पहुंच गया है। इसके अलावा 1.18 करोड़ मामले अब तक सामने आ चुके हैं। अमेरिका में गुरुवार को एक दिन में कोरोना के सबसे ज्यादा 1 लाख 88 हजार मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अमेरिका में अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या 80 हजार से अधिक हो गई है, जो उच्चतम स्तर पर है।

कैलिफोर्निया में आज(शनिवार) से सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक कर्फ्यू का आदेश दिया गया है, जिसमें राज्य के 4 करोड़ निवासियों का 94% हिस्सा शामिल है। एल पासो की टेक्सास सीमा काउंटी जहां अक्टूबर से COVID-19 से 300 से अधिक लोगों की मौत हो गई है, यहां ऐसे मुर्दाघर श्रमिकों की भर्ती के लिए विज्ञापन कर रही है, जो 175 पाउंड या उससे अधिक वजन वाले लोगों को उठाने में सत्रम हो।

अमेरिका में कोरोना वायरस से हुई मौत मई के अंत से अपने उच्चतम स्तर पर है, जब अमेरिका कोरोना संकट की पहली लहर से उबर रहा था। वे अप्रैल के अंत में एक दिन में लगभग 2,200 मामले पर पहुंचे, जब न्यूयॉर्क शहर कोरोना का केंद्र था।

कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मांगी

अमेरिका में कोरोना की दूसरी लहर के बीच फाइजर(Pfizer) ने शुक्रवार को कहा कि वह अमेरिकी नियामकों से COVID-19 वैक्सीन के आपातकालीन उपयोग की अनुमति देने के लिए कह रहा है। इसको लेकर अमेरिकी नियामक 10 दिसंबर को एक बैठक कर फैसला करेंगे।  बता दें कि वैक्सीन के व्यापक रूप से उपलब्ध होने में महीनों लग सकते हैं। इस बीच फाइजर ने कहा है कि उसाक टीका रोग को रोकने में 95% प्रभावी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here