धमतरी। Dhamtari News: नदी घाटों पर रेत के अवैध उत्खनन का कारोबार इन दिनाें जोरों पर चल रहा है। राज्य के अलग- अलग हिस्सों से इस तरह के मामले लगातार सामने आ रहे हैं और प्रशासन भी इन्हे काबूम में नहीं कर पा रहा है। इससे रेत माफिया के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। हालात यह हैं कि इनके कारोबार का विरोध करने वाले सरकारी अफसराें- कर्मचारियों और जनप्रतिनिधियों को यह अपना निशाना बना रहे हैं।

ताजा मामला धमतरी जिले के कुरूद ब्लाक के ग्राम गाड़ाडीह जी का है। यहां घाट पर रेत के अवैध उत्खनन की शिकायत पर 16 जुलाई की रात कांग्रेस के जिला पंचायत सदस्य गोविंद साहू अपने साथियों के साथ निरीक्षण के लिए पहुंचे थे। रेत माफिया के गुर्गों और वहां मौजूद लोगों ने जिला पंचायत सदस्य को पीटा। घायल अवस्था में जिला पंचायत सदस्य को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

रेत खदान में पिटाई के मामले में गोरेगांव नगरी निवासी यतींद्र बंजारे ने कुरुद थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। उन्होने पुलिस को बताया कि उनकी पत्नी जिला पंचायत सदस्य मीना बंजारे और अन्य सदस्यों ने 16 सितंबर को जिला पंचायत में हुई बैठक में अवैध रेत उत्खनन व भंडारण रोकने के लिये खदानों का निरीक्षण करने का निर्णय लिया था। 17 सितंबर की रात जिला पंचायत अध्यक्ष कांति सोनवानी, उपाध्यक्ष निशु चंद्राकर, सदस्य तारिणी चंद्राकर, सुमन साहू, कुसुमलता, मनोज साक्षी, मीना बंजारे, गोविंद साहू निरीक्षण के लिए निकले।

ग्राम परेवाडीह, दमकाडीह, कपालफोड़ी का निरीक्षण करने के बाद मंदरौद मेघा नदी के किनारे रेत भंडारण के पास पहुंचे। यहां हाईवा से रेत निकाल कर भंडारण किया जा रहा था। अचानक कुछ लोग सामने आए और उनके साथ जाती सूचक गाली देते हुए नेतागिरी करते हो कहकर मारपीट करने लगे। लात, घुसा, रॉड से जमकर मारपीट की गई। जिला पंचायत सदस्य गोविंद साहू के कपड़े फाड़कर उसे बदम पीटा। गोविंद साहू को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसकी सूचना कुरुद थाना में दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here