कोलकाता। भारत-चीन सीमा पर तनाव के कारण देश में चीनी उत्पादों के खिलाफ माहौल बना हुआ है। ऐसे में सबसे ज्यादा चीनी स्मार्टफोन कंपनियां डरी हुई हैं जिन्होंने भारतीय स्मार्टफोन मार्केट पर कब्जा कर रखा है। चीनी मोबाइल कंपनियां लगातार बयान जारी कर खुद को भारतीय बता रही हैं। इसी कड़ी में चीन की मोबाइल फोन कंपनी Xiaomi ने अपनी ब्रांडिंग में बदलाव किया है। पिछले दिनों कंपनी ने भले ही कह दिया हो कि चीन-बहिष्कार का मामला सिर्फ ऑनलाइन मीडिया तक सिमटा हुआ है, लेकिन उसके कदम बताते हैं कि भारत में बदले माहौल से डरी वह भी है। कंपनी ने कोलकाता में अपने एमआइ ब्रांड स्टोर के बाहर “मेड इन इंडिया” के बैनर लगा दिए हैं, ताकि लोग उसके उत्पादों को चीन निर्मित समझकर बहिष्कार ना करें।

All India Mobile Retailers Assosciation (AIMRA) ने चीन की सभी मोबाइल फोन कंपनियों को जमीनी सच्चाई से अवगत कराने के लिए पत्र लिखा था। अपने पत्र में AIMRA ने उन सभी कंपनियों से कहा था कि वे रिटेलरों को कुछ महीनों के लिए स्टोर के बाहर का बोर्ड हटा लेने या किसी बैनर से ढंक देने की इजाजत दें।

संस्था के मुताबिक कई संगठनों ने इन स्टोर्स को बैनर हटाने के लिए एक हफ्ते की मोहलत दी है। इसे देखते हुए हीकंपनी ने तिरंगे की तरह बैनर बनाकर अपने एमआइ स्टोर पर चस्पा कर दिया है। भारत में कंपनी प्रबंधन की ओर से ट्वीट कर लिखा गया कि हम खुशी के साथ बताना चाहते हैं, हमारा अधिकतर सामान भारत में ही बनता है और अपनी फैक्ट्रियों में हम हजारों भारतीयों को रोजगार देते हैं।

कोलकाता में लोगों में चीन के सामान के प्रति मिलाजुली प्रतिक्रिया है। लोगों का कहना कि अगर पूरी तरह से प्रोडक्ट भारत में बनकर तैयार होता है, तो उन्हें कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन अगर चीन से सामान लाकर भारत में असेंबल किया जाता है और फिर उसे मेड इन इंडिया कहा जा रहा है तो यह धोखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here