बीजिंग । चीन की एक खदान में रविवार को जहरीली गैस के रिसाव के चलते 16 लोगों की मौत हो गई। खदान में इन लोगों की मौत वहां पर कॉर्बन मोनॉक्साइड का स्तर बढ़ जाने की वजह से हुई है।

एनवाइटी के मुताबिक दक्षिण-पश्चिमी चीन में कोयले की एक खदान है, इसी में रविवार को कार्बन मोनॉक्साइड गैस का स्तर बहुत अधिक बढ़ गया, इस वजह से वहां पर काम कर रहे मजदूरों को सांस लेने में समस्या होने लगी जिससे 16 लोगों की मौत हो गई। अत्यधिक बढ़ जाने के कारण 16 लोगों की मौत हो गई। चीन की चोंगचिंग नगर प्रशासन ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर बताया कि खदान में कुल 17 लोग फंस गए थे। इस हादसे में सिर्फ एक शख्स बच पाया है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बाकी के लोगों को तमाम कोशिशों के बावजूद बचाया नहीं जा सका।

एनवाइटी की रिपोर्ट के मुताबिक खदान में एक कन्वेयर बेल्ट के जलने से कार्बन मोनॉक्साइड गैस का स्तर बहुत ज्यादा बढ़ गया था। हालांकि यह साफ नहीं हो पाया कि यह बेल्ट किस चीज से बनी हई थी। मालूम हो कि कोयले की भूमिगत खदान से कोयला बाहर निकालने के लिए रबर की बेल्ट का भी इस्तेमाल होता है। जिला प्रशासन के हवाले से कहा गया है कि किजियांग जिले में स्थित यह खदान स्थानीय ऊर्जा कंपनी से जुड़ी हुई है। बताया जाता है कि चीन में इस तरह के हादसे अक्सर होते रहते हैं, और वहां पर खदानों में सेफ्टी का रिकॉर्ड बहुत ही खराब है।

बीते दिसंबर माह में भी चीन की एक खदान में कोयले और गैस के चलते हुए विस्फोट के चलते 14 मजदूरों की जान चली गई थी। यह घटना दक्षिणी-पश्चिमी गुइजू प्रांत में हुई थी। इससे पहले दिसंबर 2018 में भी चीन के चोंगचिंग में एक खदान में सॉफ्ट के गिरने की वजह से 7 मजदूर मारे गए थे। 2018 के ही अक्टूबर में शैनदोंग राज्य की एक खदान में 21 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई थी। इस तरह चीन की खदानों में ऐसे हादसे अक्सर होते रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here