नई दिल्ली । YouTube ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अपने प्लेटफॉर्म से उन वीडियो को हटा दिया है, जिनमें COVID-19 वक्सीन की गलत जानकारी दी जा रही थी। साथ ही इन वीडियो में महामारी से जुड़े गलत आकंड़े भी दिए जा रहे थे। वहीं, कंपनी का कहना है कि हम आगे भी कोरोना संक्रमण के टीकों के बारे में गलत जानकारी देने वाली वीडियो पर प्रतिबंध लगाते रहेंगे। आपको बता दें कि अब तक पूरी दुनिया में 3 करोड़ से ज्यादा लोग इस खतरनाक वायरस की चपेट में हैं, जबकि 10 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है।

YouTube के आधिकारिक ब्लॉग पॉस्ट के मुताबिक, बैन की गई वीडियो में दावा किया जा रहा था कि कोविड वैक्सीन से लोगों की मौत हो रही है। साथ ही यह वैक्सीन महिलाओं को बांझ बना रही हैं। इतना ही नहीं लोगों के शरीर में माइक्रोचिप इंप्लांट की जा रही है, जिन्हें पहले वैक्सीन मिल चुकी है। वहीं, यूट्यूब के प्रवक्ता का कहना है कि वैक्सीन से जुड़ी उन वीडियो को प्लेटफॉर्म पर रखा जाएगा, जिसमें सही जानकारी दी जाएगी।

2,00,000 वीडियो हुई डिलीट

यूट्यूब ने कहा है कि 2 लाख वीडियो को प्लेटफॉर्म से हटाया जा चुका है। इन सभी वीडियो के जरिए कोरोना संक्रमण से जुड़ी गलत जानकारी फैलाई जा रही थी। साथ ही इन वीडियो के जरिए लोगों को डॉक्टर की सहायता लेने से रोकने से लेकर मेडिकल ट्रीटमेंट के गलत तरीके तक बताए जा रहे थे।

कोरोना वायरस की ताजा जानकारी

देश में बीते 24 घंटों में कोरोना के 67,708 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान देश में 680 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। भारत में कोरोना के कुल मामलों की बात करें तो अब तक 73 लाख 7 हजार 98 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से 63 लाख 83 हजार 442 लोग ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 8 लाख 12 हजार 390 है। कोरोना से मौत का आंकड़ा बढ़कर 1 लाख 11 हजार 266 तक जा पहुंचा है। देश में अब तक करीब 64 लाख लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं।

बीते 24 घंटों में 81,514 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं। देश की कोरोना रिकवरी दर फिलहाल 87.36% है। इसके साथ ही देश मे सक्रिय मामलों की संख्या भी तेजी से घट रही है। बीते 24 घंटों में देश में 14,486 सक्रिय मामले कम हुए है। कोरोना एक्टिव केस की दर 11.12% है। देश की कोरोना मृत्यु दर 1.52% है।

कोरोना के खिलाफ जंग में अचूक हथियार माने जाने वाले नमूनों की जांच के मामले में भारत ने एक और महत्वपूर्ण लक्ष्य हासिल किया है। अब तक नौ करोड़ से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है। भारत से अधिक सिर्फ अमेरिका में भी 12 करोड़ टेस्ट किए गए हैं। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक, देश में अब तक 9 करोड़ 12 लाख 26 हजार 305 कोरोना सैंपल टेस्ट हुए हैं। बीते 24 घंटों में 11 लाख 36 हजार 183 लोगों का टेस्ट हुआ है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here